अगले साल के शुरू से ही इस गाड़ी के साथ रिस्ट बैंड key नही मिलेगी, इसकी मदद से बिना चाबी के कार में कर सकते थे एंट्री

Vikas Sharma
By Vikas Sharma  - Senior Editor
tata altroz wearable key

नए साल में ऑटो इंडस्ट्री में काफी बदलाव होने वाले हैं। कुछ कंपनियां अपने वाहनों को और महंगा करने जा रही हैं, जबकि अन्य कुछ मॉडलों को बंद करने जा रही हैं। उदाहरण के लिए, टाटा जनवरी से अपने वाहनों को और अधिक महंगा करने जा रहा है, और अल्ट्रोज़ में अब PEPS स्मार्ट कुंजी नहीं होगी, जो एक कलाई बैंड है जो बिना चाबी के प्रवेश की अनुमति देता है। इसके बजाय, यांत्रिक चाबियों का उपयोग किया जाएगा।

अब PEPS स्मार्ट चाबी मिलेगी

कंपनी फिलहाल Altroz ​​के XT, XZ और XZ+ वेरिएंट के लिए एक PEPS स्मार्ट की और एक PEPS वियरेबल बैंड ऑफर करती है। हालांकि, जनवरी 2023 से ग्राहकों को केवल XT, XZ और XZ+ वेरिएंट के साथ दो PEPS स्मार्ट चाबियां मिलेंगी। इसकी तुलना में, बेस-स्पेक XE वैरिएंट दो मैकेनिकल चाबियों के साथ जारी रहेगा। जबकि XE+ और XM+ एक मैकेनिकल की और एक फ्लिप की के साथ आएंगे। PEPS पहनने योग्य बैंड को कलाई पर पहना जाता है, जिससे ग्राहक अपनी चाबियों पर नज़र रख सकते हैं और उन्हें खो जाने से बचा सकते हैं।

टाटा कार खरीदना होगा महंगा

Tata जनवरी 2023 से अपनी ICE कारों और EVs की कीमतें बढ़ाने जा रही है। कंपनी ने कहा कि कीमतों में बढ़ोतरी का एक मुख्य कारण कमोडिटी की ऊंची कीमतें हैं। टाटा ने आगामी आरडीई मानदंडों के अनुपालन की लागत के बारे में भी बात की है। Nexon EV, Tiago EV और Tigor EV जैसे EV के मामले में, बैटरी की कीमतों में वृद्धि के कारण कीमतें बढ़ेंगी। कई कंपनियां अब तेजी से इलेक्ट्रिक वाहनों की ओर बढ़ रही हैं, जिससे बैटरी की कीमत बढ़ रही है।

2 सालों को लगातार बढ़ रहीं कीमतें

हाल ही में कोविड-19 नाम की किसी चीज की वजह से कारें काफी महंगी हो गई हैं। यह तब होता है जब कच्चे माल और चिप-सेमीकंडक्टर्स की लागत जैसी चीजों के कारण कार बनाने की लागत बढ़ जाती है। कई कंपनियों ने इसकी वजह से इस साल अपनी कारों को 3 से 4 गुना महंगा कर दिया है। अगले साल अक्टूबर से यह भी नियम होगा कि सभी कारों में छह एयरबैग जरूर होने चाहिए। इससे कारों को बनाने की लागत और भी अधिक हो जाएगी।

Share this Article