दिल्ली सरकार ने टाटा कम्पनी को दिया इलेक्ट्रिक बसें तैयार करने का बड़ा ऑर्डर, जाने समझोते से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

Vikas Sharma
By Vikas Sharma  - Senior Editor
delhi transport corporation to add 1500 e buses

दिल्ली परिवहन निगम ने अपने बेड़े में 1500 इलेक्ट्रिक बसें जोड़ने के लिए टाटा मोटर्स लिमिटेड के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। समझौते के हिस्से के रूप में, टाटा मोटर्स 12 साल के लिए 12-मीटर लो-फ्लोर एसी इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति, संचालन और रखरखाव करेगी।

इलेक्ट्रिक मोबिलिटी दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम

दिल्ली परिवहन निगम 1,500 इलेक्ट्रिक बसों के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर करके खुश है। राजधानी शहर में इलेक्ट्रिक वाहनों के अधिक उपयोग की दिशा में यह एक बड़ा कदम है। नई बसें कोई प्रदूषण या शोर पैदा नहीं करेंगी, जिससे शहर की वायु गुणवत्ता में सुधार करने में मदद मिलेगी। नई बसों से यात्रियों को भी सहूलियत होगी।

देश के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक बस ऑर्डर के लिए समझौता

टीएमएल सीवी मोबिलिटी सॉल्यूशंस लिमिटेड में आज हमारे लिए एक ऐतिहासिक दिन है, क्योंकि हमने देश में इलेक्ट्रिक बसों के सबसे बड़े ऑर्डर के लिए एक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। डीटीसी के साथ हमारी साझेदारी एक दशक से अधिक समय से मजबूत रही है, और यह नया आदेश केवल उस रिश्ते को और मजबूत करेगा। हमें विश्वास है कि इलेक्ट्रिक बसें दिल्ली के यात्रियों के लिए सार्वजनिक परिवहन का एक स्थायी, सुरक्षित और आरामदायक रूप प्रदान करेंगी।

टाटा डीटीसी को करेगा स्टारबस ईवी की आपूर्ति

टाटा कंपनी दिल्ली परिवहन निगम को स्टारबस ईवी नामक एक प्रकार की बस प्रदान करेगी। इस बस को संचालित करने के लिए और यात्रियों के लिए एक सहज और आरामदायक सवारी प्रदान करने के लिए बहुत सस्ती होने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

730 से अधिक इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति

कंपनी ने भारत के कई शहरों में 730 से अधिक इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति की है। निर्माता का कहना है कि इन बसों ने 95 प्रतिशत से अधिक के अपटाइम के साथ 55 मिलियन किमी से अधिक की संचयी दूरी तय की है।

Share this Article